Monday, February 24, 2014

बच्चा

बच्चा नहीं है ये -
कच्चा कागज़ है
रफ वर्क का काम लेते हैं सब इस से
लोग लिखते हुए
अपने दिल की भड़ास...
भूल जाते हैं
के कागज़ याद भी रख सकता है सब

"ये तो कुछ नहीं समझता " गलत है एकदम
सब समझता है कागज़

मत लिखो इस पर कुछ भी
रफ वर्क की तरह
ये रद्दी कागज़ नहीं है
- बच्चा है
फिन्केगा नहीं किसी कचरे के डिब्बे में
बड़ा होना है इसे

ख्याल रखो इस का।

5 comments:

Miss A said...

:)

yeah i thought not writing would be alright, but that's not alright either. you have to write, and write good stuff.

Onkar said...

सुन्दर कविता

Gentle Breeze said...

Beautiful :)

Indrani said...

Good read.

How do we know said...

hi Miss A: :)

Onkar sir, GB and Indrani: Thank you!